Diwali 2022: घर के इन कोनों को साफ करने से बनी रहती है मां लक्ष्मी की कृपा

Diwali 2022: देशभर में दिवाली का त्योहार बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है। दीपावली को दीप का उत्सव भी कहा जाता है। दिवाली का त्योहार अंधकार पर प्रकाश की विजय को दर्शाता है। इस साल दिवाली का त्योहार 24 अक्टूबर को मनाया जाएगा। दिवाली के दिन मां लक्ष्मी और भगवान गणेश की पूजा की जाती है। कहते हैं मां लक्ष्मी और भगवान गणेश की पूजा करने से घर में सुख समृद्धि आती है।

Diwali 2022: किस घर में करती है मां लक्ष्मी वास?

दीपावली से पहले पूरे घर की साफ-सफाई की जाती है और घर को बेहद खूबसूरत तरीके से सजाया जाता है। लेकिन अगर आप अपने घर के इन कोनों की सफाई नहीं करते हैं तो आप पर भगवान धनवंतरी, कुबेर देव और मां लक्ष्मी की कृपा नहीं होती है। इसलिए दिवाली के त्योहार से पहले ही आपको इन स्थानों की सफाई कर लेनी चाहिए।

Diwali 2022: ईशान कोण

ज्योतिषियों के मुताबिक ईशान कोण सबसे महत्वपूर्ण माना गया है। कहते हैं कि यह दिशा देवताओं की होती है। यही कारण है कि हर मंदिर को ईशान कोण पर ही स्थापित करना चाहिए। कहा जाता है कि अगर आप इस कोण को साफ नहीं रखते हैं तो आपके घर में मां लक्ष्मी का वास नहीं होता है। बता दें कि घर के ईशान कोण को उत्तर पूर्व दिशा कहा जाता है। इस दिशा में कोई भी ऐसा सामान नहीं रखना चाहिए जिसका इस्तेमाल आप नहीं करते हैं और साथ ही इस दिशा में कोई भी गंदा सामान नहीं रखना चाहिए।

Diwali 2022: ब्रह्म स्थान

घर के बीच के स्थान को ब्रह्म स्थान कहा जाता है। और ये स्थान बहुत महत्वपूर्ण स्थान होता है। इस स्थान का भी साफ रहना बेहद जरूरी है। दिवाली से पहले इस स्थान की जरूर साफ सफाई कर ले और इस्तेमाल में न आने वाला सामान हटा दे। और एक बात का जरूर ध्यान रखें कि स्थान पर कोई भी खंडित चीज न रखें।

ये भी पढ़: PM Modi Diwali : इस साल भी नरेंद्र मोदी बनाएंगे जवानों के साथ दीपावली, जाने पूरा कार्यक्रम

Diwali 2022: करें इन दिशाओं को भी साफ

दिवाली के दिन सुबह उठकर घर के पूर्व स्थानों की अच्छे से साफ सफाई करें। ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। साथ ही घर की उत्तर दिशाओं का भी साफ होना बेहद जरूरी है। क्योंकि एक साफ सफाई वाले घर में मां लक्ष्मी वास करती है।

ये भी पढ़: Diwali Special Dish: क्यों खाई जाती है दिवाली की रात सूरन की सब्जी

Leave a Comment